पति ही निकला पत्नी का हत्यारा

| June 16, 2015 | 0 Comments

समस्तीपुर। थाने के तेतारपुर गांव में बीते 10 मई को अधेड़ महिला की गला दबा कर हुई चर्चित हत्याकांड में पुलिस ने कांड के वादी पति और जेठानी को ही हत्या का आरोपी मानकर गिरफ्तार कर लिया है। इसके बाद हत्या के इस मामले में यू टर्न ले लिया। पति ने ही इस कांड की प्राथमिकी थाने में दर्ज करायी थी। जिसमें पत्नी सुनैना देवी देवी की हत्या का आरोप अज्ञात लोगों पर लगाया था। इसमें जेवरात लूट के बाद गला दबाकर हत्या करने की बात कही थी। घटना के बाद चहुंओर चर्चा के बीच ग्रामीणों की निशानदेही पर शक की सुई पति के ही इर्द गिर्द घुम रहा था। ¨कतु प्राप्त साक्ष्य नहीं मिलने का लाभ हत्यारा पति अब तक उठाता रहा। वहीं पुलिसिया हथकंडे से बचने को लेकर तरह-तरह के उपाए में उसके द्वारा किया जाता रहा। ¨कतु जब पुलिसिया अनुसंधान रंग लाया तो मामला परत दर परत खुलने लगा। और पति हेमन राय एवं मृतका रीना देवी के जेठानी सुनैना देवी पर हत्या के तार जुड़ने के साथ शक गहराने लगा। प्रारंभिक पुलिसिया अनुसंधान के उपरांत रविवार की रात्रि पति हेमन राय एवं मृतका के जेठानी सुनैना देवी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

जेवरात देने से मनाही करने पर की गला दबाकर हत्या

10 मई को स्व. मुसाफिर राय की पत्नी सुनैना देवी की बेटी सरिता की शादी थी। जहां रीणा देवी अपने भतीजी की शादी की रश्म अदा कर रही थी। शादी मंडप से ही अचानक रीना देवी गुम हो गई। उसकी खोजबीन की गई वहीं दूसरी ओर शादी का रस्म भी अदा किया जा रहा था। ¨कतु सुबह होने पर दरवाजे पर रीना देवी का शव देखा गया। चौकाने वाला तथ्य तब सामने आया जब किसी ने दरवाजे पर शव को आते नहीं देखा। बस इसी समय से पुलिस का शक पति एवं जेठानी पर गहराता चला गया।

बड़े भाई की पत्नी से था मधुर संबंध

डीएसपी राजेन्द्र ¨सह के द्वारा किये गए पर्यवेक्षण में यह तथ्य सामने आया कि हेमन राय का अपने सहोदर भाई स्व. मुसाफिर राय की पत्नी सुनैना देवी से मधुर संबंध था। सुनैना देवी की ही बेटी सरिता की शादी थी। इसी में गहना देने को लेकर विवाद हुआ। पत्नी द्वारा जेवर देने से मुकड़ने के कारण हरेराम ने अपने पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी और जेवरात देने में कामयाब हो गया। इसके अलावा बेटे द्वारा अपने पिता पर हत्या का आरोप लगना और मुकरना, हत्या के बाद पंडित भगवती नंदन झा पर दबाव डालकर शादी कराना, पति द्वारा प्राथमिकी दर्ज करने एवं पो‌र्स्टमार्टम में शव को भेजने में रुचि नहीं लेना सहित कई तथ्य जांच के क्रम में सामने आए है जो संदिग्धों की हालतों को दर्शाता है। इधर गिरफ्तार पति हेमन राय का बताना है कि पुलिस ने जान बुझकर ग्रामीणों के दबाव मुझे गिरफ्तार कर हत्या का आरोप मढ़़ दिया।

वर्जन

परिस्थतिजन्य प्राप्त साक्ष्य में पति व जेठानी द्वारा ही हत्या किये जाने की पुष्टि हुई है। अनुसंधान के क्रम में भी कई तथ्य सामने आये हैं। जिसमें और कई लोग हत्या में शामिल हो सकते है। प्रारंभिक जांच के आधार पर पति और जेठानी को गिरफ्तार किया गया है। अनुसंधान जारी है जिसमें और लोगों की गिरफ्तारी संभव है।

– असगर इमाम, थानाध्यक्ष, मोहिउद्दीननगर, समस्तीपुर।

Courtesy: Jagran

Tags: , ,

Category: Bihar NEWS