साक्षरता कर्मियों की सेवा स्थाई करे सरकार

| June 14, 2015 | 0 Comments

saksharta-workersमधेपुरा। साक्षर भारत के तहत कार्य कर रहे प्रेरकों व समन्वयकों की प्रमंडलस्तरीय बैठक रविवार को वेद व्यास कालेज में संपन्न हुई।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्य कार्यक्रम समन्वयक महेन्द्र प्रसाद यादव ने कहा कि साक्षर भारत अभियान के तहत साक्षरता कर्मी वर्षो से शिक्षा का अलख जला रहे हैं। निरक्षरों को शिक्षित करने में जुटे हुए हैं। लेकिन सरकार को उनलोगों की सुध नहीं ले रही है। सरकार ने संविदा पर कार्य करने वाले साक्षरता कर्मियों की सूची मांगी थी। सूचि में 20 बिन्दुओं पर जानकारी मांगी गई थी। सरकार उक्त सूची के आलोक में साक्षरता कर्मियों को सेवा स्थाई करे। मुख्य कार्यक्रम समन्वयक बासुकीनाथ झा ने कहा कि वो लोग संविदा पर लंबे समय से काम कर रहे हैं। सेवा स्थायीकरण के सभी मापदंड को पूरा भी कर रहे हैं। इसलिए उनलोगों की सेवा स्थाई होनी चाहिए।

कार्यक्रम का संचालन कर रहे जिला कार्यक्रम समन्वयक जानेश्वर शर्मा ने कहा कि अधिकार प्राप्त करने के लिए लड़ना होगा। संगठन को मजबूत करना होगा। बैठक में वरीय प्रेरक प्रभाकर, प्रदेश सचिव, इन्द्र भूषण, सदर प्रखंड समन्वयक हनुमान प्रसाद, लेखा समन्वयक अनिल कुमार, प्रेरक संघ के जिला सचिव रेखा देवी, जगदीश यादव, गजाधर ऋषिदेव, नंदलाल यादव, सिकंदर यादव, सौरभ भारद्वाज आदि उपस्थित थे।

Courtesy: Jagran

Tags: , , ,

Category: Bihar NEWS