August 15, 2018

जदयू के बागी नेता पर पत्नी के साथ मारपीट का आरोप, थाने में हुई सुलह

ravindra_rai_and_wifeपटना। जदयू से बगावत कर विधानसभा सदस्यता गंवाने वाले रवींद्र राय नई मुसीबत में फंसते-फंसते बच गए हैं। रवींद्र राय की पत्नी बबीता राय ने उन पर मारपीट का आरोप लगाया। वे सोमवार की दोपहर में शिकायत लेकर महिला थाने पहुंच गईं। इसके बाद वहां हुई काउंसलिंग में दोनों के बीच सुलह हो गई।

पति पर मारपीट का आरोप : पुलिस को दी तहरीर में बबीता ने आरोप लगाया कि रवींद्र राय आए दिन उसके साथ मारपीट करते रहते हैं। छोटी सी बात को लेकर रविवार को भी उनके साथ जमकर मारपीट की। उन्होंने पति पर घर में कैद रखने और परिजनों से बात नहीं करने देने का भी आरोप लगाया। बबीता रविवार रात आठ बजे से ही बबिता महिला थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए बैठी रहीं। सोमवार को उनकी शिकायत के आधार पर पति रवींद्र राय को बुलाया गया।

काउंसलिंग में हो गई सुलह : महिला थाना में काउंसलिंग के बाद दोनों में सोमवार की शाम तक सुलह हो गई। रवींद्र राय ने भविष्य में दुर्व्यवहार नहीं करने का आश्वासन दिया। बताया जाता है कि दोनों ने दिल्ली में पढ़ाई के दौरान लव मैरिज की थी। इसके कुछ समय बाद ही पैसों को लेकर दोनों के रिते में खटास आ गई थी।

पिछले साल चली गई थी विधायकी : सनद रहे कि विधानसभा अध्यक्ष ने पिछले साल एक नवंबर को राज्यसभा चुनाव के दौरान पार्टी विरोधी गतिविधियों के आधार पर जदयू के विधायक रवींद्र राय, ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू, राहुल कुमार और नीरज कुमार सिंह की सदस्यता रद्द कर दी थी। उनपर आरोप लगा था कि उन्होंने राज्यसभा उप चुनाव में दल के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ निर्दलीय उम्मीदवार खड़ा किया था। इसे पार्टी विरोधी गतिविधि मानते हुए विधानसभा अध्यक्ष ने चारों की सदस्यता खत्म कर दी थी।

Courtesy: Jagran

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *